Breaking : बिलासपुर MLA शैलेष के इस प्रयास से नशे की गिरफ़्त से बाहर हुए युवा… शैलेष ने कहा-‘हुक्काबार बंद होना पूरे बिलासपुर की जीत’

0 0
Read Time:5 Minute, 36 Second

 

 

उर्वशी मिश्रा।
बिलासपुर/ रायपुर। 16 दिसंबर, 2021

 

छत्तीसगढ़ में सरकार के तीन साल और हुक्का बार चलाने वाले को तीन साल की सजा का आंकड़ा मेल खा रहा है। अंततः विधानसभा के शीतकालीन सत्र में सबसे महत्वपूर्ण सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पादन विज्ञापन का प्रतिषेध और व्यापार तथा वाणिज्य उत्पादन प्रदाय वितरण का विनियम) संशोधन पारित हो गया। जिसके बाद अब हुक्का बार खोलना और चलाना दोनों अपराध होगा। राज्य के युवा वर्ग को नशे की इस लत से दूर भले ही सरकार ने विधानसभा में विधेयक लाकर किया हो मगर हुक्का बार में ताला लगाने में ताला लगवाने का पूरा श्रेय नगर विधायक शैलेष पांडेय को जाता है।

गौरतलब है कि बिलासपुर विधायक शैलेष पांडे ने पहले ही हुक्का बार बंद कराने की मुहिम छेड़ी थी और इसे लेकर विधायक ने सड़क से लेकर विधानसभा तक अपनी बात रखी थी।

 

 

गौरतलब है कि शैलेश पांडे ने विधानसभा में राज्य के मुखिया, गृहमंत्री और स्वास्थ्य-मंत्री सदन में मौजूद उन सभी का ध्यानाकर्षण के माध्यम से चेताया था कि हुक्का बार के संचालन से किस तरह प्रदेश का युवा वर्ग नशे की ओर बढ़ रहा है। विधायक पांडे की पहल के बाद प्रदेश सरकार ने राज्य के सभी शहरों में संचालित हुक्का बार पार्लर पर कार्रवाई करवाने का दौर शुरू कर दिया जिसके फल स्वरूप अब बिलासपुर तो क्या, प्रदेश के किसी भी शहर के किसी भी कोने में हुक्का बार पार्लर का संचालन पूरी तरह बंद हो गया है।

ये भी पढ़ें :  Bilaspur Crime News : बंद कमरे में फांसी के फंदे पर लटकती मिली मां और दो साल की मासूम बेटी की लाश, पति ने कहा- सब कुछ ठीक था

 

 

इधर शीतकालीन सत्र में विधायक पांडे के प्रस्ताव को ध्यान में रखते हुए सरकार ने बड़ा फैसला लिया और महत्वपूर्ण सिगरेट और अन्य तंबाकू उत्पादन विज्ञापन का प्रतिषेध और व्यापार तथा वाणिज्य उत्पादन प्रदाय वितरण का विनियम संशोधन पारित हो गया। जिसके बाद अब हुक्का बार खोलना और चलाना दोनों अपराध होगा। इस विधेयक के पास होने से सबसे खास बात यह है कि अब प्रदेश में हुक्का बार का संचालन करने वाले को 3 वर्ष की सजा, जिसमें सजा 1 वर्ष से कम नहीं होगी तो वही पचास तक जुर्माना लगाया जाएगा लेकिन जुर्माना दस हजार से कम नहीं होगा। युवा नस्ल को नशे की लक्ष्य लत से दूर करने में नगर विधायक शैलेश पांडे का राजनीतिक नेतृत्व काफी सराहनीय है।

ये भी पढ़ें :  ऐतिहासिक : अमेरिका की धरा पर फहराया अपना तिरंगा...शुद्ध देसी रेडियो द्वारा हुआ शानदार आयोजन...कथक और भरतनाट्यम ने बांधा समां

आबकारी विभाग अछूता, पुलिस ने किया काम

हुक्का बार पार्लर के खिलाफ कार्रवाई को लेकर विधायक पांडे ने आवाज क्या बुलंद की, मानो पुलिस के कान खड़े हो गए। एक के बाद एक बिलासपुर शहर के करीब 27 हुक्का बार पार्लरों में पुलिस ने धमक की और कोटपा एक्ट के तहत कार्रवाई कर सभी को बंद कराया। इसी तरह प्रदेश के सभी शहरों में भी पुलिस ने हुक्का बार पार्लरों पर कार्यवाही की, लेकिन इसके बाद भी आबकारी विभाग हुक्का बार पर कार्यवाही करने से अछूता रहा। विधायक पांडे के आगाज के बाद करीब करीब सभी हुक्का बार पार्लर, जो फूड लाइसेंस के नाम से चल रहे थे, सभी को बंद करा दिया गया।

शहर में कितने हुक्का बार हुए बंद विभाग के पास जानकारी नहीं

ये भी पढ़ें :  Bilaspur News : सनकी बेटे ने मां को उतारा मौत के घाट, बहू को पैसे देने से था नाराज, हत्या के 2 घंटे के भीतर गिरफ्तार

विधायक पांडे के हुक्का बार के खिलाफ छेड़ी गई मुहिम के बाद एक बात सामने आई की शहर में पिछले दिनों कब – कहां और कितने हुक्का बार संचालित हो रहे थे। इस बात की जानकारी या कोई डिटेल आबकारी कार्यालय में नहीं है। आबकारी उप निरीक्षक मुकेश पांडे से पूछने पर उन्होंने बताया कि हमारे पास इस बारे में कोई जानकारी नहीं है या तो जिला आबकारी ऑफिस से संपर्क करें नहीं तो पुलिस वाले ही बता पाएंगे कि शहर में पिछले दिनों कितने हुक्का बार पार्लर संचालित हो रहे थे। वही अब नए नियम में आबकारी विभाग को कार्रवाई करने का अधिकार मिला है जिसे देखकर ही कुछ बता पाना संभव होगा।

Happy
Happy
%
Sad
Sad
%
Excited
Excited
%
Sleepy
Sleepy
%
Angry
Angry
%
Surprise
Surprise
%
Share

Related Post

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Comment