मैं भावुक हूं, जीवन में पहली बार… रामलला के लिए पीएम मोदी ने शुरू किया आज से 11 दिन का विशेष अनुष्ठान

0 0
Read Time:3 Minute, 48 Second

 

नेशनल डेस्क/नई दिल्ली, न्यूज राइटर, 12 जनवरी, 2024

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अयोध्या की राम जन्मभूमि पर बन रहे राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के लिए आज से विशेष अनुष्ठान शुरू कर दिया है। यह अनुष्ठान पूरे 11 दिन चलकर 22 जनवरी को पूरा होगा जब राम मंदिर में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा हो जाएगी। पीएम मोदी ने सोशल मीडिया पर इसकी जानकारी दी। उन्होंने अपने एक्स पोस्ट में लिखा, ‘मैं आज से 11 दिन का विशेष अनुष्ठान आरंभ कर रहा हूं। मैं आप सभी जनता-जनार्दन से आशीर्वाद का आकांक्षी हूं। इस समय, अपनी भावनाओं को शब्दों में कह पाना बहुत मुश्किल है…।’

ये भी पढ़ें :  Odisha Train Accident : मृतकों की संख्या बढ़कर 233 हुई, 900 से ज्यादा घायल, सरकार ने किया मुआवजे का ऐलान

 

 

कांग्रेस पार्टी ने प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम का किया बहिष्कार

रामलला की प्राण प्रतिष्ठा के कार्यक्रम में शामिल होने के लिए देश-विदेश की कई जानी-मानी हस्तियों को न्योता दिया गया है। इसमें विपक्ष के नेता भी शामिल हैं। हालांकि, देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस ने राम मंदिर के कार्यक्रम में शामिल होने से इनकार करते हुए निमंत्रण को ठुकरा दिया है। कांग्रेस पार्टी के तीन नेताओं सोनिया गांधी, मल्लिकार्जुन खरगे और अधीर रंजन चौधरी को निमंत्रण दिया गया, लेकिन तीनों प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शामिल नहीं होंगे। इसकी कांग्रेस पार्टी के अंदर भी एक वर्ग की ओर से कड़ी आलोचना हो रही है।

 

राम मंदिर को लेकर काफी भावुक हैं पीएम मोदी

ये भी पढ़ें :  Bhanupratappur By-Election 2022: भानुप्रतापपुर उपचुनाव के लिए वोटिंग शुरू... कांग्रेस उम्मीदवार सावित्री मंडावी ने डाला वोट...

पीएम ने अपना यूट्यूब लिंक भी शेयर किया है। उसमें उन्होंने कहा, ‘जीवन के कुछ क्षण ईश्वरीय आशीर्वाद की वजह से ही यथार्थ में बदलते हैं। आज हम सभी भारतीयों के लिए, दुनियाभर में फैले रामभक्तों के लए ऐसा ही पवित्र अवसर है। हर तरफ प्रभु श्रीराम की भक्ति का अद्भुत वातावरण है। चारों दिशाओं में राम नाम की गूंज, राम भजनों की सौंदर्य माधुरी! हर किसी को इंतजार है 22 जनवरी का, उस ऐतिहासिक पवित्र पल का। और अब अयोध्या में रामलला की प्राण प्रतिष्ठा में केवल 11 दिन ही बचे हैं। मेरा सौभाग्य है कि मुझे भी इस पुण्य अवसर का साक्षी बनने का अवसर मिल रहा है। यह मेरे लिए कल्पनातीत अनुभूतियों का समय है।’

ये भी पढ़ें :  सुधार लागू करने के लिए ईपीएफओ की ऑनलाइन संयुक्त घोषणा

मैं भावुक हूं, भाव विह्वल हूं। मैं पहली बार जीवन में इस तरह के मनोभाव से गुजर रहा हूं। मैं एक अलग ही भाव-भक्ति की अनुभूति कर रहा हूं। मेरे अंतर्मन की ये भाव-यात्रा मेरे लिए अभिव्यक्ति का नहीं, अनुभूति का अवसर है। चाहते हुए भी मैं इसकी गहनता, व्यापकता और तीव्रता को शब्दों में बांध नहीं पा रहा हूं। आप भली भांति मेरी स्थिति समझ सकते हैं।

Happy
Happy
%
Sad
Sad
%
Excited
Excited
%
Sleepy
Sleepy
%
Angry
Angry
%
Surprise
Surprise
%
Share

Related Post

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Comment