Video Breaking : पित्रोदा के बयान पर सियासी बवाल : PM ने कहा-‘ये कांग्रेस द्वारा लूट का मंत्र है…शाह बोले -‘ कांग्रेस बेनकाब हुई है’

0 0
Read Time:3 Minute, 39 Second

नेशनल डेस्क, न्यूज राइटर, 24 अप्रेल 2024

 

 

 

कांग्रेस पार्टी में इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा के एक बयान ने भारत की राजनीति पर नया बवाल मचा दिया है। इस बयान के आने के बाद से प्रधानमंत्री मोदी ने छत्तीसगढ़ के अंबिकापुर में चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस का मंत्र है कि कांग्रेस की लूट जिंदगी के साथ भी, जिंदगी के बाद भी। दरअसल सैम पित्रोदा ने अमेरिका का उदाहरण देते हुए एक बयान जारी किया है।

 

 

सैम पित्रोदा ने कहा कि अमेरिका में, एक विरासत कर है। यदि किसी के पास 100 मिलियन अमरीकी डालर की संपत्ति है और जब वह मर जाता है तो वह केवल 45 प्रतिशत अपने बच्चों को हस्तांतरित कर सकता है, 55 प्रतिशत सरकार के कब्जे में जाता है।”

ये भी पढ़ें :  CM बघेल ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को लिखा पत्र, 12% GST के अतिरिक्त भार का उठाया मुद्दा

 

अब इस बयान के बाद पीएम मोदी ने पलटवार करते हुए बयान दिया है कि कांग्रेस की लूट, जिंदगी के साथ भी और जिंदगी के बाद भी। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का कहना है आप जो अपनी मेहनत से संपत्ति जुटाते हैं, वो आपके बच्चों को नहीं मिलेगी।”

 

 

https://twitter.com/SudarshanNewsCG/status/1783040674130235747?t=dvM69NCPAp6eRJDq6_yH7A&s=19

 

अमित शाह ने कहा-‘कांग्रेस हुई बेनकाब’

 

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने इंडियन ओवरसीज कांग्रेस के अध्यक्ष सैम पित्रोदा की टिप्पणी पर कहा, “कांग्रेस पार्टी सैम पित्रोदा के बयान के बाद पूरी तरह बेनकाब हो गई है। सबसे पहले घोषणापत्र, फिर पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह का पुराना बयान कि ‘हम देश के संसाधन पर सबसे पहला अधिकार अल्पसंख्यकों का मानते हैं’ और अब इनके घोषणापत्र बनाने में अहम भूमिका निभाने वाले सैम पित्रोदा का बयान कि संपत्ति के बंटवारे पर विचार होना चाहिए… जब प्रधानमंत्री मोदी ने यह मुद्दा उठाया तो राहुल गांधी, सोनिया गांधी और पूरी कांग्रेस बैकफूट पर आ गई है कि उनका यह मकसद नहीं है लेकिन सैम पित्रोदा के बयान ने इनका मकसद स्पष्ट कर दिया है कि वे देश की जनता की संपत्ति का सर्वे कर उनकी निजी संपत्ति को सरकारी खजाने में डालकर UPA के शासनकाल में उन्होंने जो प्राथमिकता तय की थी कि देश के संसाधनों पर पहला हक अल्पसंख्यकों और उसमें भी मुसलमानों का है, उनमें बांटना चाहते हैं। मैं मानता हूं कांग्रेस पार्टी या तो अपने घोषणापत्र से इस बात को हटाए या स्वीकारें कि यही उनका मकसद है। मैं देश की जनता से भी अपील करता हूं कि वे इनके महत्वपूर्ण नीति निर्धारण करने वाली टीम के मुखिया सैम पित्रोदा के बयान को गंभीरता से लें…”

ये भी पढ़ें :  मुख्यमंत्री भूपेश बघेल आज शाम 6:00 बजे कोरोना संक्रमण से बचाव एवं लाकडाउन के संबंध में राज्य की जनता को देंगे महत्वपूर्ण संदेश
Happy
Happy
%
Sad
Sad
%
Excited
Excited
%
Sleepy
Sleepy
%
Angry
Angry
%
Surprise
Surprise
%
Share

Average Rating

5 Star
0%
4 Star
0%
3 Star
0%
2 Star
0%
1 Star
0%

Leave a Comment